Birthday Special: जयाप्रदा

Facebook Google+ PInterest Twitter

Birthday Special: जयाप्रदा Birthday Special: जयाप्रदा

 मीडिया रिपोर्ट के अनुसार- एक्ट्रेस जयाप्रदा का असली नाम ललिता रानी है। फिल्मों में आने के बाद जैसे कई कलाकारों के नाम बदलते हैं वैसे ही ललिता रानी जया प्रदा हो गईं। जया प्रदा का जन्म 3 अप्रैल 1962 में आंध्र प्रदेश के राजाहमुंडरी जिले में हुआ था। जया के पिता कृष्णा राव तेलुगू फिल्मों के फाइनेंसर थे। फिल्मी बैकग्राउंड होने की वजह से ही जया प्रदा का रुझान शुरू से फिल्मों की तरफ था। जया के फिल्मी करियर की शुरुआत तेलुगू फिल्म 'भूमिकोसम' से हुई। इस फिल्म के लिए जया प्रदा को केवल 10 रुपए मिले थे। फिल्म में उनका 3 मिनट का डांस था जिसे देखकर दक्षिण भारत के कई फिल्म निर्माता-निर्देशक उनसे प्रभावित हुए और अपनी फिल्मों में काम देने की पेशकश की जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया। 1977 में जया प्रदा के सिने करियर की एक और महत्वपूर्ण फिल्म 'आदावी रामाडु' प्रदर्शित हुई जिसने कई रिकॉर्ड बनाए। इस फिल्म में उन्होंने एक्टर एन.टी. रामाराव के साथ काम किया और वह शोहरत की बुलंदियों पर जा पहुंची। 1979 में के. विश्वनाथ की 'श्री श्री मुवा' के हिंदी रीमेक 'सरगम' के जरिए जया प्रदा ने हिंदी सिनेमा में कदम रखा। इस फिल्म की सफलता के बाद वह रातों रात हिंदी सिनेमा जगत में अपनी पहचान बनाने में कामयाब हो गईं।'सरगम' की सफलता के बाद जया प्रदा ने 'लोक परलोक', 'टक्कर', 'टैक्सी ड्राइवर' और 'प्यारा तराना' जैसी कई दोयम दर्जे की फिल्मों में काम किया इनमें से कोई फिल्म टिकट खिड़की पर सफल नहीं हुई। साल 1982 में के. विश्वनाथ ने जयाप्रदा को अपनी फिल्म 'कामचोर' के जरिए दूसरी बार हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में लांच किया। इस फिल्म की सफलता के बाद वह एक बार फिर से हिंदी फिल्मों में अपनी खोई हुई पहचान बनाने में कामयाब हो गईं।एक फिल्म की शूटिंग के दौरान जया प्रदा छेड़खानी की भी शिकार हुईं। सीन शूट करते वक्त उनके को-स्टार दलीप ताहिल ने जया प्रदा को कसकर पकड़ लिया। खुद को दलीप ताहिल के चंगुल से बचाने के लिए जया प्रदा ने जोरदार थप्पड़ जड़ दिया था। इस घटना से वहां मौजूद सभी लोग सन्न रह गए।1984 में जया प्रदा ने सुपरहिट फिल्म 'शराबी' में काम किया। इस फिल्म में उन्हें सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के साथ काम करने का मौका मिला। इसके अलावा उन्होंने 'संजोग', 'घराना', 'ऐलान ए जंग', 'मजबूर' और 'शहजादे' जैसी कई फिल्मों में काम किया। 1992 में प्रदर्शित फिल्म 'मां' उनके करियर की महत्वपूर्ण फिल्मों में से एक है।या प्रदा ने अपने 30 साल के करियर में करीब 200 फिल्मों में काम किया। हिंदी सिनेमा में उनकी जोड़ी जितेंद्र और अमिताभ के साथ लोगों ने खूब पसंद की। फिल्मों के साथ राजनीति में भी वह सक्रिय हैं। उन्होंने तेलुगू देशम पार्टी से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की। जया प्रदा की लोकप्रियता का आलम यह है कि रामपुर से वह चुनाव लड़ीं और 2004 से 2014 तक सांसद रहीं। जया प्रदा की निजी जिंदगी के बारे में लोग कम ही जानते हैं। 1986 में जया प्रदा ने प्रोड्यूसर श्रीकांत नाहटा से शादी की। जया प्रदा श्रीकांत की दूसरी पत्नी थीं। इससे पहले श्रीकांत ने चंद्रा के साथ शादी की थी जिससे उनके तीन बच्चे हैं। श्रीकांत और जया प्रदा की शादी से काफी विवाद भी खड़ा हुआ था क्योंकि उन्होंने अपनी पहली पत्नी को तलाक दिए बिना जया प्रदा से दूसरी शादी की थी।यही नहीं जया प्रदा से शादी के बाद भी उनकी पहली पत्नी से श्रीकांत को बच्चे हुए। श्रीकांत की पहली पत्नी और जया प्रदा ने पति को साझा करने के लिए सहमति जताई और दोनों साथ में रहे। जया प्रदा और श्रीकांत के कोई बच्चे नहीं हैं हालांकि उन्होंने बच्चे की चाहत जताई थी और चाहती थीं कि उनके भी बच्चे हों।

 

Facebook Google+ PInterest Twitter